Advertisements

भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह कौन सा है – जाने हिंदी में

आज के इस लेख में हम आपके साथ Bharat Ka Sabse Bada Bandargah Kaun Sa Hai के बारे में जानकारी शेयर करने जा रहे है तो यदि आप इसके बारे में सर्च कर रहे थे तो आप बिलकुल सही जगह आये हो। 

दुनिया के सबसे बड़े बंदरगाह में से एक के रूप में, भारत वैश्विक आयात और निर्यात के लिए एक सबसे बड़ा केंद्र माना जाता है भारत में इतने बड़े बंदरगाह है जो की भारत के विकासशील अर्थव्यवस्था को बनाए रखने में मदद करते हैं। 

वैसे तो भारत के सभी बंदरगाह काफी लोकप्रिय है, परंतु आज हम भारत के सबसे बड़े बंदरगाह की बात कर रहे है। 

ऐसे हमारे भारत मे कई बंदरगाह है जो कि नौ तटीय राज्य महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, गोवा, गुजरात, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में है और साथ ही आज भारत में दस सबसे बड़े कंटेनर और कार्गो शिपिंग पोर्ट भी हैं,

तो चलिए सबसे पहले जानते है कि बंदरगाह किसे कहते हैं फिर हम भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह कौन सा है के बारे में जानेंगे। 

बंदरगाह किसे कहते हैं?

बंदरगाह को पोर्ट के नाम से भी जाना जाता है यह बड़े माल जहाजों का आगमन होता है एवं काफी सारी जहाजे यहां से सामान लेकर दूसरे देश जाती है तो मूल रूप से जमीन या जगह जहा जहाज आकर रुकता है एवं माल व वस्तुए उतरती है उसे बंदरगाह कहते है। 

प्राकृतिक और कृत्रिम दोनों प्रकार के होते है जैसे कुछ नेचुरल बने होते है एवं कुछ को जरूरत के अनुसार बनाया जगह है। 

Bharat Ka Sabse Bada Bandargah Kaun Sa Hai?

  1. मुंबई पोर्ट 

पश्चिम मुंबई की मुख्य भूमि पर स्थित मुंबई बंदरगाह है,  यह भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह है। यह एक प्राकृतिक बंदरगाह है जो 10-12 मीटर गहरा है और साथ ही यह भारत के विदेश व्यापार का लगभग पांचवां हिस्सा संभालता है।

मुंबई में इस बंदरगाह को भारत का सबसे व्यस्त बंदरगाह भी माना जाता है और इसकी खास बात यह है यह भारत की अर्थव्यवस्था और व्यापार मामलों को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। मुंबई बंदरगाह को Front Bay के रूप में भी जाना जाता है, जिसका अर्थ भारत का प्रवेश द्वार है।

मुंबई का यह बंदरगाह मुख्य रूप से पेट्रोलियम उत्पादों, तरल रसायनों और खनिज तेल, सूती वस्त्र, चमड़ा, तम्बाकू, मैंगनीज, मशीनरी, रासायनिक वस्तुओं का आयात करता है।

  1. जवाहरलाल नेहरू पोर्ट

नावा शेवा, जो जवाहरलाल नेहरू पोर्ट का दूसरा नाम है, पूरे भारत में सबसे बड़ा कंटेनर पोर्ट है। यह मुंबई, महाराष्ट्र के पूर्व में स्थित है, नावा शेवा यह नाम दो गांवों के नामों से लिया गया है जो उस क्षेत्र में मौजूद थे।

26 मई, 1989 को निर्मित, जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह पूरी तरह से भारत सरकार द्वारा नियंत्रित होता है। यह बंदरगाह कुल कंटेनरों का 56% हिस्सा संभालता है और भारत के शीर्ष 30 बंदरगाहों में से एक है। जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह के अध्यक्ष श्री अनिल दिगिकर हैं, और इसकी खास बात यह है कि इस जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह को 2014 में पोर्ट ऑफ द ईयर से सम्मानित किया गया था।

जवाहरलाल नेहरू पोर्ट से मुख्य कपड़ा, खेल के सामान, कालीन, कपड़ा मशीनरी, बोनलेस मांस, रसायन फार्मास्यूटिकल्स निर्यात होता है और रसायन, मशीनरी, प्लास्टिक, विद्युत मशीनरी, वनस्पति तेल और एल्यूमीनियम और अन्य धातु आयात होते है।

यह भी पढ़े

Conclusion

आज के इस लेख में आपने जाना कि भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह कौन सा है हम आशा करते है कि आपको आज का यह लेख पसंद आया होगा एवं यह Bharat Ka Sabse Bada Bandargah की पोस्ट आपके लिए उपयोगी रही होगी।

यदि आपको आज का यह लेख पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और सोशल मीडिया साइट पर जरूर शेयर करे और अगर इससे जुड़े कोई प्रश्न हो तो कमेंट जरूर करे। 

Advertisements

Leave a Comment